शैलजा द्विवेदी हत्याकांड : मेजर अमित द्विवेदी की पत्नी की हत्या के जुर्म में मेजर निखिल गिरफ़्तार…जानिए पूरा मामला…!

0
328

नई दिल्ली : बीते शनिवार को दिल्ली में मेजर अमित द्विवेदी की पत्नी शैलजा द्विवेदी की हत्या से हड़कंप मच गया था। मगर दिल्ली पुलिस ने इस मामले की जांच कर कुछ ही घंटे के अंदर ही मुख्य आरोपी मेजर निखिल हांडा को गिरफ़्तार कर लिया| आरोपी मेजर निखिल हांडा ने शैलजा द्विवेदी के कत्ल का जुर्म कबूल भी कर लिया है| इसके साथ ही आरोपी मेजर निखिल हांडा ने पुलिस को बताया हैं कि ‘पिछले 3 साल से उसकी दोस्ती शैलजा द्विवेदी से थी| उनकी ये दोस्ती तीन साल पहले तब हुई थी जब मेजर अमित द्विवेदी और निखिल राय हांडा की पोस्टिंग नागालैंड के दीमापुर में थी|

उल्लेखनीय हैं कि अमित द्विवेदी और निखिल हांडा एक दूसरे के पड़ोसी थे| अमित द्विवेदी अपने परिवार के साथ रहते थे जबकि निखिल हांडा अकेले रहते थे| उसी दौरान निखिल राय हांडा की दोस्ती शैलजा द्विवेदी से हो गई और दोनों में नज़दिकया आ गई| लेकिन 6 महीने पहले मेजर अमित द्विवेदी अपने परिवार के साथ दिल्ली शिफ्ट हो गए| उसी दिन से ही मेजर निखिल राय हांडा शैलजा द्विवेदी से मिलने के तरीके ढ़ूढ़ रहा था| एक दिन इत्तेफाक से मेजर अमित द्विवेदी ने पत्नी शैलजा को निखिल हांडा से वीडियो कॉल पर बात करते हुए पकड़ लिया था| जिसके बाद उन्होंने निखिल और शैलजा को एक दूसरे से दूर रहने को कहा था| पति अमित के समझाने के बाद शैलजा ने निखिल से दूरी बना ली, लेकिन निखिल लगातार शैलजा को फोन और मैसेज करते रहता था|

बीते कुछ दिनों से शैलजा द्विवेदी आर्मी के बेस हॉस्पिटल में फिजियोथेरेपी के जा रही थी| जिसकी जानकारी निखिल द्विवेदी को कही से लग गई| जिसके बाद मेजर निखिल हांडा बीमारी का बहाना बनाकर दीमापुर से दिल्ली आ गया और बेस हॉस्पिटल में खुद और अपने बच्चे को एडमिट कराकर मिलने का अवसर ढूंढ़ता रहा|

गौरतलब है कि मेजर निखिल हांडा शैलजा से शादी करना चाहता था, लेकिन शैलजा द्विवेदी अपनी शादीशुदा जिंदगी को खराब नहीं करना चाहती थी, लिहाजा उसने निखिल से दूरी बनाना शुरू कर दिया था| शनिवार सुबह जब शैलजा फिजियोथेरेपी कराने बेस हॉस्पिटल गई तब निखिल हांडा ने फोन कर शैलजा को मिलने बुलाया दोनों करीब काफी देर तक दिल्ली कैंट इलाके में ही होंडा सिटी में घूमते रहे| जब शैलजा ने निखिल से शादी करने से साफ मना कर दिया तो निखिल ने गाड़ी में रखे चाकू से शैलजा की गला रेत कर हत्या कर दी और शैलजा को गाड़ी से नीचे फेंक कर गाड़ी भी उसके ऊपर चला दी ताकि हत्या को सड़क हादसा बताया जा सके|

बता दे, कि शाम को लगभग 5 बजे मेजर अमित नारायणा अपनी पत्नी की मिसिंग कंपलेंट लिखाने पहुंचे|जब  पुलिस ने महिला की लाश की फोटो अमित को दिखाई तो अमित ने फोटो में दिख रही महिला की पहचान अपनी पत्नी शैलजा के रूप में की| शुरुआत में ही मेजर अमित ने मेजर निखिल हांडा के ऊपर शक जाहिर किया जिसके बाद पुलिस जब निखिल हांडा को ढूंढने लगी तो पता चला कि मेजर निखिल अपना मोबाइल फोन बंद कर फरार हो गया है| जिसके बाद पुलिस ने जांच पड़ताल कर आरोपी मेजर निखिल राय हांडा को गिरफ़्तार कर लिया| आरोपी मेजर निखिल ने अपना गुनाह कबूल भी कर लिया है| मीडिया में आई खबरों के मुताबिक 6 महीने में मेजर निखिल ने शैलजा को करीब 3000 से ज्यादा फोन कॉल की थी| शैलजा मिसेज इंडिया अर्थ 2017- 18 की फाइनलिस्ट भी रह चुकी हैं|

Facebook Comments