मणिकर्णिका: निर्देशन में शामिल नहीं होगा कंगना का नाम

0
152

मुंबई. कंगना रनावत की आने वाली फिल्म मणिकर्णिका द क्वीन ऑफ झाँसी लंबे समय से चर्चाएं बटोर रही हैं. ये तो सभी जानते हैं कि फिल्म में कंगना रानी लक्ष्मीबाई के किरदार में दिखाई देंगी लेकिन पिछले दिनों खबर थी कि मणिकर्णिका में कंगना अभिनेत्री होने के साथ-साथ बतौर को-डायरेक्टर भी काम करेंगी. लेकिन कंगना ये प्रस्ताव ठुकरा दिया है।

खबर है कि पिछले दिनों फिल्म को निर्देशित कर रहे कृष बाहर हुए और साथ ही सोनू सूद ने भी फिल्म छोड़ दी. ऐसे हालात में कंगना को लेकर लगातार खबरें आयीं कि वह फिल्म के री- शूट वाले हिस्से को निर्देशित कर रही हैं इसलिए वह फिल्म में निर्देशक के रूप में भी अपना नाम शामिल करवाने वाली है. लेकिन अब इस खबर पर विराम लग चुका है. दरअसल कंगना को जी स्टूडियो की तरफ से यह ऑफ़र दिया गया कि निर्देशक कृष के साथ उनका नाम भी फिल्म के निर्देशक के रूप में जोड़ा जाये. लेकिन कंगना ने यह ऑफ़र स्वीकार नहीं किया है.

यह सच है कि कंगना ने 45 दिनों तक फिर से कुछ पैच वर्क शूट किया है और क्योंकि वह इस विषय से काफी प्यार करती हैं। जब स्टूडियो ने उन्हें इसके साथ क्रेडिट की बात की तो उन्होंने मना कर दिया कि यह उनकी जिम्मेदारी थी कि उनकी यह फिल्म सही तरीके से शूट हो और दर्शकों तक पहुँच जाये. गौरतलब हो कि फिल्म मणिकर्णिका का टीजर दर्शकों के सामने 2 अक्टूबर को आने वाला है और जहां तक फिल्म का सवाल है तो मणिकर्णिका   अगले साल 25 जनवरी को रिलीज़ होने वाली है .

मणिकर्णिका की लागत अब 125 करोड़ रूपये तक पहुंच गई है। फिल्म में सबसे बड़ा खर्च स्पेशल इफ़ेक्ट्स नहीं है बल्कि फिल्म को री-शूट करवाना महंगा पड़ा है. बताते हैं जब ये फिल्म वाराणसी में लॉन्च हुई थी तब इसका बजट करीब 60 करोड़ रूपये था लेकिन बाहुबली जैसी ऐतिहासिक भव्यता लाने के लिए फिल्म में भरपूर स्पेशल इफेक्ट्स का इस्तेमाल हो रहा है. साथ ही फिल्म के बहुत से सीन्स दोबारा शूट किये गए हैं इस वजह से बजट बढ़ गया है. ख़बर है कि इस फिल्म को बाहुबली के निर्देशक एस एस राजमौली के पिता विजयेन्द्र प्रसाद ने लिखा है लेकिन अब स्क्रिप्ट में भी काफ़ी बदलाव किये गए हैं.

Facebook Comments