जम्मू-कश्मीर: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने राज्य में राज्यपाल शासन लागू करने की दी मंजूरी…!

0
130

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने जम्मू-कश्मीर में मौजूदा राजनीतिक परिस्थिति को देखते हुए राज्यपाल शासन को लागू करने की मंजूरी दे दी है। दरअसल बीजेपी ने मंगलवार शाम को महबूबा मुफ्ती सरकार से अपना समर्थन वापस ले लिया था। जिस वजह से महबूबा मुफ़्ती की सरकार गिर गई थी| जिसके बाद सदन में अपनी बहुमत खो चुकी महबूबा मुफ्ती ने भी अपना इस्तीफा राज्यपाल एनएन वोहरा को सौंप दिया था।

सांकेतिक तस्वीर

गौरतलब हैं कि जम्मू-कश्मीर में विधानसभा चुनाव के बाद एक मार्च, 2015 को पीडीपी और भाजपा की गठबंधन वाली सरकार बनी थी। तब पीडीपी के मुफ्ती मुहम्मद सईद मुख्यमंत्री पद की शपथ लिए थे। मगर 7 जनवरी, 2016 को उनका निधन हो गया। उसके बाद 4 अप्रैल को महबूबा मुफ्ती जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री बनी थीं।

बता दे, कि पीडीपी से गठबंधन तोड़ने का एलान भाजपा महासचिव व जम्मू-कश्मीर के प्रभारी राम माधव ने किया था। मगर उससे पहले ही पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने मंगलवार को भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष रवीन्द्र रैना के साथ-साथ  राज्य सरकार में शामिल पार्टी के सभी मंत्रियों और महासचिवों को दिल्ली बुलाकर आपात बैठक कर सियासी हालात की समीक्षा की थी। फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सहमति से घोषणा की गई थी।

आपकी जानकारी के लिए बता दे, कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्य में विकास कार्यो के लिए 80 हजार करोड़ रुपए का पैकेज दिए थे। मगर महबूबा मुफ़्ती की नेतृत्व वाली सरकार इसमें से महज 22% ही खर्च कर पाई थी। विस्थापित कश्मीरी पंडितों के लिए घाटी में छह हजार फ्लैट बनाने के लिए 115 करोड़ रुपए आवंटित किए गए थे उसका भी अभी तक इस्तेमाल नहीं हों पाया था। जिससे केंद्र सरकार नाराज था। बीजेपी चाहती थी कि जम्मू कश्मीर राज्य में विकास सरकार की पहचान बने। मगर ऐसा होता दिख नहीं रहा था|

जम्मू कश्मीर विधानसभा की स्थिति

– सदन में कुल सदस्यों की संख्या 87

– बहुमत के लिए चाहिए 44

– पीडीपी के पास 28 विधायक

– भाजपा के पास 25 विधायक

– नेशनल कांफ्रेंस के पास 15 विधायक

Facebook Comments