जन-जन के प्रिय अटल का जनसैलाब के बीच 4 बजे होगा अंतिम संस्कार, समाधि के लिए मिली 1.5 एकड़ जमीन

0
162

नई दिल्ली: देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का शुक्रवार शाम 4 बजे नई दिल्ली के राष्ट्रीय स्मृति स्थल (विजय घाट, राज घाट) के पास अंतिम संस्कार किया जाएगा। उनकी अंतिम यात्रा दोपहर 2 बजे भारतीय जनता पार्टी के मुख्यालय से शुरू हुई।… अंतिम यात्रा पंडित दीनदयाल उपाध्याय मार्ग, बहादुर शाह जफर मार्ग, दिल्ली गेट, नेताजी सुभाष मार्ग, निषाद राज मार्ग और शांति वन चौक से गुजरते हुए राष्ट्रीय स्मृति स्थल पहुंचेगी।

बता दे, कि अटल बिहारी वाजपेयी की अंतिम यात्रा में हजारों की संख्या में लोग पहुचे हुए है। ऐसे में इस दौरान यातायात के साथ अंतिम यात्रा में किसी प्रकार का व्यवधान न हो इसके लिए दिल्ली पुलिस ने कई जगहों पर रूट डायवर्जन किया है। इस बाबत दिल्ली पुलिस की अपनी तरफ से एडवाइजरी भी जारी की है।

काफी लंबे वक्त से मौत से जंग लड़ रहे अटल बिहारी वाजपेयी का गुरुवार शाम 5.05 बजे दिल्ली के एम्स (AIIMS) अस्पताल में निधन हो गया। उनकी निधन की खबर से न सिर्फ हिंदुस्तान बल्कि विदेशों में शोक की लहर है। आज अटल जी को अंतिम विदाई देने के लिए बहुत बड़ा जनसैलाब उमड़ पड़ा है, हर कोई इस महान आत्मा के अंतिम दर्शन करना चाहता है।

इन नेताओं ने आवास पर जाकर दिया अटल जी को श्रद्धांजलि

बृहस्पतिवार शाम को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, पूर्व राष्ट्रनपति प्रणब मुखर्जी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, सुषमा स्वराज, रविशंकर प्रसाद, धर्मेंद्र प्रधान, किरन रीजिजू, पूर्व केंद्रीय मंत्री कलराज मिश्रा और संघ प्रचारक कृष्णल गोपाल ने श्रद्धांजलि अर्पित की। गुजरात के मुख्य मंत्री विजय रूपानी, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल, बिहार के मुख्य मंत्री नीतिश कुमार, उड़ीसा के मुख्ययमंत्री नवीन पटनायक, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह, त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लव कुमार देव और असम के राज्य‍पाल जगदीश मुखी ने भी श्रद्धांजलि अर्पित की। वहीं, श्रद्धांजलि देने की कड़ी में यूपीए की चेयरपर्सन सोनिया गांधी, कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद, अशोक गहलोत, ज्योतिरादित्य सिंधिया, शिवसेना के अध्यक्ष उद्धव ठाकरे, आदित्य ठाकरे और नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत ने भी श्रद्धांजलि अर्पित की।

Facebook Comments