जब अमित शाह पर लगा फर्जी एनकाउंटर करवाने का आरोप..!

0
106

2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा के जीत नायक रहे अमित शाह का जन्म 22 अक्टूबर 1964ई0 मुंबई में हुआ था| इनका राजनीतिक सफर काफी संघर्षमय रहा हैं| ये समय-समय पर विवादों में घिरते रहे हैं| जब इन्हे 2014 के लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश का प्रभारी चुना गया तो लोगों ने ऐसा माना कि अब अटल-आडवाणी के बाद मोदी-शाह युग आ गया है| शाह ने भी अपने इस उत्तर दायित्तव को भली भांति निभाया और लोकसभा के चुनाव में भाजपा की जीत में अपना अहम योगदान दिया|

बताते चले कि मोदी-शाह की जोड़ी का सबसे ज्यादा जादू उत्तर प्रदेश में चला था| इस राज्य में कई चुनावों में अच्छा प्रदर्शन करने में नाकाम रहीं भाजपा ने 2014 के लोकसभा चुनाव में 80 सीटों में से 71 सीटों पर अपनी जीत हासिल करने में कामयाब रही| चूंकी अमित शाह उत्तर प्रदेश के प्रभारी थे इसलिए इस जीत का श्रेय अमित शाह को दिया गया| बाद में अमित शाह को भाजपा अध्यक्ष भी चुना गया|


विवादों में घिरे रहने वाले भाजपा अध्यक्ष अमित शाह का राजनीति सफर पूरी तरह से विवादों में घिरा रहा हैं| शाह पर पहली बार बड़ा आरोप साल 2002 में हुए दंगे से जुड़े सबूत को मिटाने और गवाहों के बयान जबर्दस्ती बदलवाने का आरोप लगा| आगे चलकर साल 2005 में गुजरात में हुए एक एनकाउंटर का लगा| हालांकि बाद में सीबीआई ने इन्हे इन सभी मामलों में क्लीन चिट दे दिया|  अमित शाह साल 2009 मे एक बार फिर विवादों के घेरे मे आ गए जब इन पर एक महिला की जासूसी करने का आरोप लगा हालांकि शाह ने इन सभी आरोप को सिरे से खारिज (गलत करार देना) कर दिया| साल 2010 में एक बार फिर शाह पर एक नया आरोप लगा इस आरोप में शाह पर हत्या और वसूली का आरोप लगा| इसके लिए शाह को राज्य से बाहर (ताड़ीपार) निकाल दिया गया था और राज्य में प्रवेश करने पर रोक लगा दिया गया था| हालांकि ये रोक साल 2012 में हटा दिया गया|

Facebook Comments