रेल में महिलाओं के साथ छेड़खानी करने पर होगी तीन साल की जेल!

0
157

नई दिल्ली: ट्रेन में में महिलाओं के साथ छेड़खानी करने पर अब आरोपी को तीन साल की जेल हो सकती है। दरअसल रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) ने हाल ही में रेलवे कानून में नए प्रावधान शामिल करने का प्रस्ताव दिया है, ताकि महिलाओं के खिलाफ अपराधों से सख्ती से निपटा जा सके।

मीडिया में आई खबरों के मुताबिक आरपीएफ के शीर्ष अधिकारी ने बताया हैं कि ‘अगर रेलवे एक्ट में संशोधन को मंजूरी मिल जाती है तो इसमें भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) से ज्यादा सजा का प्रावधान होगा। आईपीसी में आरोपी पर आरोप साबित हो जाने पर एक साल की सजा का प्रावधान है। जबकि नए प्रावधान के लागू हो जाने के बाद सजा तीन साल हो जाएगा

अधिकारी ने आगे बताया कि जब कभी ट्रेनों में महिलाओं से छेड़खानी या हमले की घटनाएं होती हैं, तो हमें जीआरपी की सहायता लेनी पड़ती है। क्योंकि रेलवे एक्ट में ऐसे अपराधों से निपटने का कोई प्रावधान नहीं है।
अब हमने जो प्रस्ताव दिए हैं उससे हम अब जल्द कार्यवाही कर सकेंगे। इसके साथ ही महलाओं के लिए आरक्षित बोगी में सफर करने वाले पुरुषों पर जुर्माना 500 से बढ़ाकर 1000 रुपये करने का प्रस्ताव भी दिया गया है।

ट्रेन में पहले के अपेक्षा महिलाओं के साथ अपराध 35 फीसदी बढ़े

गौरतलब हैं कि राज्यसभा में एक सवाल के जवाब में रेल मंत्री पीयूष गोयल ने बताया था कि एक आकड़े के मुताबिक 2014 से 2016 के दौरान ट्रेन में महिलाओं के खिलाफ अपराधों में 35 फीसदी बढ़ोतरी हुई है। इस दौरान कुल 1,607 मामले दर्ज किए गए। 2014 में 448, 2015 में 553, जबकि 2016 में यह आंकड़ा 606 हो गया।

Facebook Comments